महेंद्र सिंह धोनी की जीवनी

नमस्कार दोस्तों, आज की पोस्ट में हम (Mahendra singh dhoni biography in hindi) एक ऐसे इंसान की बात कर रहे हैं, जिन्हें हमारे देश में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया से प्यार मिला है, दोस्तों जिनकी हम बात कर रहे हैं उनका नाम है महेंद्र सिंह धोनी, जिन्हें ms dhoni और माही के नाम से भी जाना जाता है, दोस्तों ms धोनी ने खेल जगत में अपना काफी अच्छा नाम कमाया है, साथ ही हमारे भारत देश का नाम पूरी दुनिया में रोशन किया है,

महेंद्र सिंह धोनी की जीवनी

महेंद्र सिंह धोनी की जीवनी

दोस्तों महेंद्र सिंह धोनी हमारी भारतीय टीम के वह कप्तान है जिन्होंने हमारी भारतीय क्रिकेट टीम को क्रिकेट जगत के तीनों फॉर्मेट odi, tast और 20/20 चैंपियन बनाया है, दोस्तों इस के अलावा ms धोनी ने कॉमनवेल्थ चैंपियंस ट्रॉफी मैं ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में ही हराया था,

दोस्तों इन्होंने अब तक 3 ipl ट्रॉफी, champions league और इसके साथ बहुत सी ट्रॉफी अपने नाम की है, अगर आप ms धोनी के फैन हैं और उनके बारे में पूरी जानकारी चाहते हैं तो इस पोस्ट को लास्ट तक पढ़े, इस पोस्ट में हमने महेंद्र सिंह धोनी की जीवनी के बारे में आपके साथ पूरी जानकारी साझा की है।

आगे और पढ़े: kabir das biography in hindi

Ms धोनी का जन्म और परिवार (ms dhoni family)

दोस्तो धोनी का जन्म 7 जुलाई 1981 को रांची झारखंड में एक राजपूत परिवार में हुआ है,

दोस्त महेंद्र सिंह धोनी के पिता का नाम पान सिंह धोनी है, जो किं मेकॉन में जूनियर मैनेजर की पोस्ट पर कार्यरत थे, दोस्तों महेंद्र की मां का नाम देवाकी देवी है, साथ ही इनके एक भाई और एक बहन भी हैं, दोस्तों धोनी की बहन का नाम जयंती और भाई का नाम नरेंद्र सिंह धोनी है।

महेंद्र सिंह धोनी की शिक्षा

दोस्तों महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी शुरुआती पढ़ाई DAV जवाहर विद्या मंदिर श्यामली से की थी, जो कि झारखंड में स्थित हैं।

आगे और पढ़े: कर्ज वाली लक्ष्मी | inspirational story in hindi

MS धोनी क्रिकेट से कैसे जुड़े

दोस्तों बचपन में धोनी को क्रिकेट खेलने का शौक नहीं था पर उन्हें सचिन की बैटिंग देखना पसंद था, वह अक्सर सचिन तेंदुलकर को बैटिंग करते हुए देखते थे, धोनी को बचपन में फुटबॉल और बैडमिंटन खेलना काफी पसंद था,

दोस्तों महेंद्र सिंह धोनी फुटबॉल के काफी अच्छी प्लेयर रहे हैं और इस बात का अंदाजा हम सभी इस बात से लगा सकते हैं कि धोनी काफी छोटी उम्र में रांची के फुटबॉल के डिस्ट्रिक्ट टीम में पहुंच गए थे, दोस्तों धोनी फुटबॉल में गोल कीपर के रूप में खेला करते थे,

इनकी फुटबॉल की अच्छी गोलकीपिंग देखते हुए एक लोकल क्रिकेट क्लब ने इन्हें अपनी टीम में विकेटकीपर के रूप में शामिल करने का प्रस्ताव रखा था, जिसे धोनी ने ज्वाइन कर लिया था और इसके बाद धोनी उस टीम में विकेटकीपर के रूप में खेलते थे, पर कुछ टाइम के बाद वे अच्छी बल्लेबाजी भी करने लगे थे और इसके बाद धीरे-धीरे उनकी रूचि क्रिकेट के प्रति बढ़ने लगी थी,

दोस्तों इसके बाद वह बहुत से टूर्नामेंट में पार्टिसिपेट करने लगे और अपने लंबे छक्के लगाने की वजह से वह काफी पॉपुलर भी हो गए और लोगों की नजरों में आने लगे थे,

दोस्तों जिस क्रिकेट क्लब को धोनी ने विकेट कीपर के रूप में ज्वाइन किया था उस क्लब में धोनी 3 साल तक खेले थे, इस क्लब में उनका प्रदर्शन काफी अच्छा रहा था जिसकी वजह से उन्हें साल 1997/98 में वीनू मांकड़ अंडर सिक्सटीन चैंपियनशिप के लिए चुन लिया था,

दोस्तों इसी दौरान धोनी ने रेलवे TTE का एग्जाम दिया, जिसमें उनको सेलेक्ट कर लिया गया था, जिसके बाद धोनी ने साल 2001 से अपनी टीटी की जॉब स्टार्ट कर दी थी, दोस्तों जॉब के साथ-साथ महेंद्र सिंह क्रिकेट भी खेला करते थे, इसी दौरान साल 2001 में महेंद्र सिंह दिलीप ट्रॉफी के टाइम पर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर से मिले थे,

दोस्तों रेलवे की जॉब करते टाइम पर माही क्रिकेट तो खेल रहे थे पर उनका खेल आगे नहीं जा पा रहा था और उन्हें आगे कोई भी चांस नहीं मिल रहा था, इसलिए उन्होंने साल 2003 में अपनी रेलवे की जॉब को छोड़ दिया था जिससे उनके पिता उनसे काफी नाराज भी हुए थे,

दोस्तों लेकिन महेंद्र ने जॉब छोड़ने के बाद अपना पूरा मन बना लिया था कि, वह अपना पूरा टाइम अब क्रिकेट पर ही फोकस करेंगे और क्रिकेट को ही वह अपना करियर बनाएंगे, दोस्तों यहां मैं आपको बता दूं एम एस धोनी का इंडियन टीम में सिलेक्शन किसी टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करने से नहीं हुआ, बल्कि किसी और वजह से हुआ था,

दोस्तों यहां मैं आपको बता दूं, bcci की एक टीम होती है जो छोटे-छोटे शहरों में अच्छा टैलेंट खोजने का काम करती है, दोस्तों bcci टीम के सामने धोनी ने अपना ट्राइल दिया जिसमें उन्होंने लंबे लंबे छक्के लगाए पर यहां उनकी टेक्निक ज्यादा अच्छी नहीं थी पर फिर भी धोनी के लंबे छक्कों को देखते हुए उनका सिलेक्शन नेशनल टीम इंडिया ए में कर हो गया था,

दोस्तों यह सिलेक्शन धोनी की लाइफ का टर्निंग प्वाइंट था,

दोस्तों धोनी ने अपना पहला मैच केन्या के खिलाफ खेला था, यह इनकी इंडिया ए के लिए पहली सीरीज थी, इस सीरीज में इनका काफी अच्छा प्रदर्शन रहा था, दोस्तों इस श्रंखला में धोनी ने 2 शतक और 1 अर्धशतक लगाया था,

दोस्तों यहां पर मैं धोनी से रिलेटेड आपके साथ एक किस्सा भी शेयर करना चाहूंगा, जब धोनी इंडिया ए के लिए खेलते थे उस वक्त उस टीम में आकाश चोपड़ा भी थे जिन्होंने धोनी के लंबे बाल देखकर उनसे कहा कि तुम्हें अपने लंबे बालों को कटा लेना चाहिए अगर तुम इन्हें बड़ा रखते हो तो शायद ही तुम्हारा सलेक्शन इंडियन टीम में होगा,

दोस्तों धोनी ने आकाश की बात को सीरियस नहीं लिया और उनसे कहा कि हो सकता है कि मेरा सिलेक्शन टीम इंडिया में हो जाए और लोग मेरा हेयर स्टाइल फॉलो करें, दोस्तों इसके बाद धोनी की यह बात सच होने में ज्यादा वक्त नहीं लगा,

दोस्तों उस वक्त केन्या के खिलाफ धोनी का अच्छा प्रदर्शन देखते हुए तब के कप्तान सौरव गांगुली और क्रिकेट सिलेक्शन टीम का ध्यान धोनी पर गया और उन्हें टीम इंडिया के 15 खिलाड़ियों में जगह दे दी गई,

दोस्तों मुझे उम्मीद है आपको समझ आ गया होगा कि महेंद्र सिंह धोनी का सिलेक्शन टीम इंडिया में कैसे हुआ,

आगे और पढ़े: रुकावटो पर जीत हासिल कैसे करें

धोनी की लव लाइफ और उनकी शादी

दोस्तों अगर आप धोनी के काफी अच्छे फैन या चाहने वाले हैं, तो आपने उनके जीवन पर बनी फिल्म द धोनी अनटोल्ड स्टोरी देखी होगी जिसमें उनकी लव लाइफ के बारे में बताया गया है, जिसमें बताया गया है कि वह इंडिया पाकिस्तान सीरीज के दौरान उनकी मुलाकात प्रियंका से हुई थी पर ऐसा बिल्कुल नहीं है,

धोनी की प्रियंका से मुलाकात साल 2002 में हो गई थी, और उस वक्त वह इंटरनेशनल प्लेयर नहीं थे, धोनी उस टाइम रणजी तक ही पहुंचे थे, दोस्तों इसके बाद साल 2004 मैं धोनी का सिलेक्शन जब इंडिया ए में हुआ था उसी दौरान उनकी प्रेमिका प्रियंका का रोड एक्सीडेंट हो गया था जिसमें उनकी मौत हो गई थी,

दोस्तों धोनी को प्रियंका से खासा लगाव था इसलिए उस वक्त वह काफी डिस्टर्ब भी हुए थे, पर इसके बाद काफी जल्द इस दर्द से निकलकर उन्होंने क्रिकेट पर फोकस कर लिया था,

दोस्तों इस के बाद धोनी ने 4 जुलाई 2010 में अपने बचपन की दोस्त साक्षी से देहरादून में शादी कर ली थी, दोस्तों धोनी की इस शादी में बॉलीवुड के कई अभिनेता और क्रिकेट के बहुत से सितारे शामिल थे,

दोस्तों इसके बाद साल 2015 में उनके एक बेटी भी हुई जिसका नाम उन्होंने जीवा रखा।

आगे और पढ़े: Success Story Of Sundar Pichai

धोनी के क्रिकेट का सफर

दोस्तों महेंद्र सिंह धोनी का सिलेक्शन इंडियन टीम में होने के बाद, उन्हें बांग्लादेश दौरे में इंडियन टीम के 11 खिलाड़ियों में चुन लिया गया था, जिसमें उनका प्रदर्शन काफी खराब रहा, क्योंकि उस मैच में दुर्भाग्य से वे 0 रन पर आउट हो गए थे,

दोस्तों बांग्लादेश के खिलाफ उनका प्रदर्शन अच्छा ना होने के बाद भी वे पाकिस्तान के साथ होने वाले अगले वनडे मैच के लिए चुने गए थे, दोस्तों यह उनका वनडे क्रिकेट में पांचवा मैच था जिसमें उन्होंने 123 गेंदों में 148 रन बनाकर भारत को काफी अच्छी जीत दिलाई थी, दोस्तों इसके बाद आगे के मैचों में उनका प्रदर्शन काफी अच्छा रहा, जिसके चलते उन्होंने टीम इंडिया में अपनी खास जगह बना ली थी,

दोस्तों इस के कुछ टाइम बाद साल 2007 में राहुल द्रविड़ ने वनडे और टेस्ट मैचों से इस्तीफा दे दिया था तब वह टीम इंडिया के कप्तान थे, दोस्तों राहुल द्रविड़ के वनडे और टेस्ट मैचों से दूर होने के बाद टीम इंडिया को एक अच्छे कप्तान की जरूरत आन पड़ी थी, जिसके चलते सचिन तेंदुलकर को कप्तान की पारी संभालने को कहा पर उन्होंने हंसते हुए इसके लिए मना कर दिया और महेंद्र सिंह धोनी का नाम आगे रखा,

दोस्तों बोर्ड के मेंबर्स को सचिन की सलाह अच्छी लगी और आपस में परामर्श करने के बाद उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी को टीम इंडिया का कैप्टन बना दिया, दोस्तों यह धोनी के लाइफ की सबसे बड़ी अचीवमेंट थी, जिसको उन्होंने काफी कम टाइम में पा लिया था,

धोनी ने कैप्टन बनने के बाद कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और हमेशा टीम इंडिया को आगे ले जाने की ही सोची जिस का रिजल्ट हम सब ने अपनी आंखों से देखा है,

दोस्तों धोनी ने ऐसी कप्तानी की कि उन्होंने साल 2007 में टी-20 वर्ल्ड कप को भारत के नाम कराया और उसके बाद साल 2011 में वनडे क्रिकेट वर्ल्ड कप भारत के नाम करवा दिया, दोस्तों इस तरह से महेंद्र सिंह धोनी ने भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी काफी अच्छे से संभाली जो की याद रखने योग्य है।

FAQs

Ms dhoni retirement | Did Dhoni announced his retirement?

महेंद्र सिंह धोनी ने all international cricket से 15 August 2020 को retirement लिया है।

Ms dhoni wife का नाम क्या है?

धोनी ने 4 जुलाई 2010 में अपने बचपन की दोस्त साक्षी से देहरादून में शादी की थी।

Ms dhoni birthday date?

धोनी का जन्म 7 जुलाई 1981 को रांची झारखंड में एक राजपूत परिवार में हुआ है

महत्वपूर्ण जानकारी- दोस्तों इस पोस्ट में महेंद्र सिंह धोनी के बारे में जो भी जानकारी आप के साथ साझा की है वह हमने इंटरनेट से रिसर्च करके निकाली है, जिसे हम 100% सही नहीं मान सकते हैं।

नोट – दोस्तों हमारी पोस्ट के द्वारा महेंद्र सिंह धोनी के जीवन से रिलेटेड (Mahendra singh dhoni biography in hindi) बातों को जानकर आपको कैसा लगा हमें कमेंट में जरूर बताएं साथ ही इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ साझा जरूर करें, धन्यवाद।

आगे और पढ़े:

Share this post:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.